0

‘जिहाद जिंदा है’, नारे लगाते हुए लारेब हाशमी ने किए हमले,होश में आए बस कंडक्टर ने सुनाई आपबीती

Share

UP Bus Conductor Attack : सर पर सफेद साफा पहना हुआ एक शख्स अचानक बस की भीड़ के बीच धारदार चापड़ निकालता है और “जिहाद जिंदा है” के नारे लगाते हुए कंडक्टर पर ताबड़तोड़ वार शुरू कर देता है. एक दो नहीं बल्कि 35 बार वार करता है, जिसमें से 20 बार गर्दन पर और 15 बार हाथ तथा शरीर के अन्य अंगों पर प्रहार करता है. उसका इरादा कंडक्टर को मौत के घाट उतारने का था. वहां मौजूद अन्य लोग चीखते चिल्लाते हुए बाहर भागते हैं और खून से लथपथ हालत में कंडक्टर वहीं गिर जाता है.

यह‌ दृश्य प्रयागराज के चर्चित इलेक्ट्रिक सिटी बस कंडक्टर हरिकेश विश्वकर्मा पर लारेब हाशमी के हमले का है. विश्वकर्मा पर गत 24 नवंबर को जानलेवा हमला किया गया. हमले के बाद डॉक्टरों के लंबे इलाज की वजह से अब हरिकेश विश्वकर्मा खतरे से बाहर हैं. उन्हें होश आया है और दोस्तों तथा परिवार के सदस्यों से बात कर रहे हैं. हरिकेश ने पूरी वारदात के बारे में खुलासा किया है और बताया है कि इसी तरह से लारेब ने उन पर अचानक हमला कर दिया था, जिसका उन्हें अंदाजा तक नहीं था.

दोस्त ने बताया वारदात वाले दिन क्या हुआ
एक चैनल से खास बातचीत में उनके दोस्त ने बताया है कि लारेब हाशमी ने अचानक बस कंडक्टर हरिकेश पर “जिहाद जिंदा है” का नारा लगाते हुए अचानक हमला शुरू कर दिया था. होश में आने के बाद हरिकेश ने बताया है कि बस में कई तरह के लोग रोजाना सफर करते हैं. उसे इस बात का अंदाजा बिल्कुल नहीं था कि लारेब उस पर अचानक हमला कर देगा. हरिकेश ने अपने करीबियों को बताया है कि रोज की तरह वह बस में अपना काम कर रहे थे, तभी अचानक चापड़ निकालकर जिहाद का नारा लगाते हुए लारेब ने उस पर वार कर दिया. वह जब तक कुछ समझ पाता तब तक उसकी गर्दन पर 20 बार और हाथ तथा अन्य अंगों पर 15 बार वार हो चुके थे, जिसकी वजह से वह बेहोश हो गए थे. उसके बाद लगातार उनका इलाज चल रहा थी. वह अब होश में आ गए हैं.

कट्टरपंथी विचारधारा की चपेट में है लारेब, किया था लोन वुल्फ अटैक
वारदात को अंजाम देने के बाद हाशमी ने एक वीडियो भी भागते हुए बनाया था, जिसमें वह मजहब के लिए काम करने का दावा कर रहा था. घटना की जांच उत्तर प्रदेश पुलिस की एंटी टेरेरिस्ट स्क्वाड (एटीएस) कर रही है. उसने खुलासा किया है कि लारेब हाशमी ने बस कंडक्टर पर लोन वुल्फ अटैक किया था. इसमें हमलावर भीड़ भाड़ वाले इलाके, मार्केट जैसी जगहों पर अकेले ही घुस जाता है और हमला करता है. 

लारेब हाशमी बीटेक का छात्र है. ये साफ हो चुका है कि लारेब का कंडक्टर पर हमला कोई पुराने टिकट को लेकर पैसों का विवाद नहीं है, बल्कि लारेब कट्टरपंथ और जिहाद के रास्ते पर था. लारेब ने ट्रेंड आतंकी की तरफ इस लोन वुल्फ अटैक को अंजाम दिया. 

पाकिस्तानी कट्टरपंथी मौलवी का फैन 
लारेब की इंटरनेट हिस्ट्री से साफ है कि वो पाकिस्तानी मौलवी रिजवी, कट्टरपंथियों की तकरीरें, जिहाद से जुड़े आर्टिकल, तालिबान के नरसंहार करने वाले वीडियो, इजरायल फिलिस्तीन से जुड़े वीडियो लगातार सर्च करता और देखता था. वह पाकिस्तानी मौलवी का फैन है.

माफिया अतीक अहमद जैसा बनना चाहता है
लारेब हाशमी ने पुलिस हिरासत में बताया कि वह बाहुबली माफिया अतीक अहमद का फैन है. लारेब अतीक की तरह दबंग और बड़ा आदमी बनना चाहता है ताकि उसका भी नाम हो. इसी वजह से उसने अतीक की तरह सिर पर सफेद साफा बांधना शुरू कर दिया था. बाहुबली की मौत पर उसे दुख भी हुआ था. फिलहाल वह पुलिस हिरासत में है और उससे पूछताछ हो रही है.

ये भी पढ़ें :Laraib Hasmi News: लारेब हाशमी के व्हाट्सएप का डाटा रिकवर कराएगी पुलिस, जानें- अब कैसी है कंडक्टर की हालत

#जहद #जद #ह #नर #लगत #हए #लरब #हशम #न #कए #हमलहश #म #आए #बस #कडकटर #न #सनई #आपबत