0

केंद्र सरकार पर बरसे राहुल गांधी, बोले- अस्पताल कॉर्पोरेट मशीन की तरह कर रहे काम

Share

Image Source : ANI
वायनाड में केंद्र सरकार पर बरसे राहुल गांधी

देश के 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर वोटिंग की प्रक्रिया अब खत्म होने वाली है। 30 नवंबर को तेलंगाना विधानसभा चुनाव के मद्देनजर वोटिंग की जा रही है। वहीं 3 दिसंबर को पांचों राज्यों के चुनाव का रिजल्ट घोषित किया जाएगा। इस बीच कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड पहुंचे। यहां उन्होंने न्यू ब्लॉक (इकरा डायग्नोस्टिक्स, ऑक्सीजन प्लांट) इकरा अस्पताल के उद्घाटन समारोह में भाग लिया। यहां उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि हमारे देश में बहुत सारे अस्पताल पूरी तरह कॉर्पोरेट मशीन के तौर पर काम कर रहे हैं। ये अच्छा ट्रेंड नहीं है। 

केरल दौरे पर केंद्र सरकार पर बरसे राहुल गांधी

उन्होंने कहा, ‘राष्ट्रीय स्तर पर हमें स्वास्थ्य सेवाओं के बारे अलग सोच की जरूरत है। केंद्र सरकार को गरीब लोगों को बहुत कम लागत पर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करानी चाहिए। हमने राजस्थान में इस दिशा में काम किया है। अगर 2024 में हम सत्ता में आते हैं तो हम पूरे देश में इस तरह की पहल लागू करने की कोशिश करेंगे। बता दे कि राहुल गांधी केरल दौरे पर गए हुए हैं। इससे पहले नामपल्ली में उन्होंने मंगलवार को कहा था कि मेरा लक्ष्य है देश से नफरत को खत्म करना। उन्होंने कहा कि नफरत खत्म करने के लिए केंद्र में नरेंद्र मोदी को हराना जरूरी है। यहां नामपल्ली में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने आरएसएस, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि कट्टरपंथियों ने पूरे देश में नफरत फैला दी है। 

राहुल गांधी का मकसद नफरत खत्म करना

राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा का उल्लेख करते हुए कहा कि मैंने अपने यात्रा के दौरान नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान खोलने का वादा किया था। उन्होंने दावा किया कि उनके खिलाफ 24 मामले दर्ज किए गए क्योंकि वह प्रधानमंत्री के खिलाफ लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि पहली बार ऐसा हुआ कि मानहानि के मामले में दो साल की सजा मिली है। मेरी लोकसभा सदस्यता को रद्द कर दिया गया है। मेरा सरकारी घर छीन लिया गया। मैंने कहा कि मुझे यह नहीं चाहिए, मेरा घर देश के करोड़ों गरीबों के दिलों में है। 

Latest India News


#कदर #सरकर #पर #बरस #रहल #गध #बल #असपतल #करपरट #मशन #क #तरह #कर #रह #कम