0

Mann Ki Baat | PM मोदी की घोषणा, 31 अक्टूबर को रखी जाएगी ‘मेरा युवा भारत’ संगठन की नींव | Navabharat (नवभारत)

Share

Man Ki Bat पीएम नरेंद्र मोदी के साथ

Loading

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने मन की बात कार्यक्रम में 31 अक्टूबर को लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती (Iron Man Sardar Vallabhbhai Patel birth anniversary) पर ‘मेरा युवा भारत’ (Mera Yuva Bharat) नामक एक संगठन की नींव रखे जाने की घोषणा की। जो राष्ट्र निर्माण से जुड़ी विभिन्न योजनाओं में देश क युवाओं को सक्रिय भागीदारी निभाने का अवसर प्रदान करेगा। 

राष्ट्रव्यापी संगठन की रखी जा रही नींव 

मोदी ने कहा कि 31 अक्टूबर को ही एक बहुत बड़े राष्ट्रव्यापी संगठन की नींव रखी जा रही है और इस संगठन का नाम होगा ‘मेरा युवा भारत।’ उन्होंने कहा कि यह संगठन भारत के युवाओं को राष्ट्र निर्माण से जुड़ी विभिन्न योजनाओं में सक्रिय भूमिका निभाने का अवसर देगा।

पीएम मोदी आकाशवाणी पर रविवार को प्रसारित मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ की 106वीं कड़ी में देशवासियों संबोधित किया । इस दौरान उन्होंने अपने विचार साझा करते हुए पिछले कुछ वर्षों में खादी से जुड़े उत्पादों की बिक्री में हुए इजाफे का हवाला दिया।  देशवासियों से एक बार फिर अधिक से अधिक स्थानीय उत्पादों को खरीदने की अपील की और ‘आत्मनिर्भर भारत’ के संकल्प को पूरा करने का आह्वान किया।

खादी बिक्री में हुआ इजाफा

 प्रधानमंत्री ने इस महीने की शुरुआत में गांधी जयंती के अवसर पर दिल्ली के कनॉट प्लेस स्थित खादी भंडार में एक ही दिन में डेढ़ करोड़ रुपये से ज्यादा की बिक्री का उल्लेख करते हुए कहा कि 10 साल पहले देश में जहां खादी उत्पादों की बिक्री बड़ी मुश्किल से 30 हजार करोड़ रुपये से भी कम की थी, आज यह बढ़कर सवा लाख करोड़ रुपये के आसपास पहुंच गई है। उन्होंने कहा कि खादी की बिक्री बढ़ने का मतलब है इसका फायदा शहर से लेकर गांव तक में अलग-अलग लोगों तक पहुंचता है।

वोकल फोर लोकल पर जोर

मोदी ने कहा कि इस बिक्री का लाभ बुनकरों, हस्तशिल्प कारीगरों, किसानों, आयुर्वेदिक पौधे लगाने वालों और कुटीर उद्योगों को मिलता है। प्रधानमंत्री ने इसे ‘वोकल फोर लोकल’ अभियान की ‘ताकत’ बताते हुए देशवासियों से आग्रह किया वे जब भी पर्यटन या तीर्थटन पर जाएं, तो वहां के स्थानीय उत्पादों को जरूर खरीदें। उन्होंने लोगों से अपनी यात्रा के कुल बजट के कुछ हिस्से को स्थानीय उत्पादों की खरीदारी के लिए रखने का आग्रह किया। 

स्थानीय उत्पादों को प्राथमिकता देने की अपील

आगामी त्योहारों का उल्लेख करते हुए मोदी ने लोगों से अपनी खरीदारी में स्थानीय उत्पादों को प्राथमिकता देने का आह्वान किया और कहा कि दृष्टि केवल छोटे दुकानदारों और रेहड़ी-पटरी से सामान लेने तक सीमित नहीं है। उन्होंने कहा कि आज भारत दुनिया में विनिर्माण का बड़ा केंद्र बन रहा है। कई बड़े ब्रांड यहीं पर अपने उत्पाद तैयार कर रहे हैं। अगर हम उन उत्पादों को अपनाते हैं, तो ‘मेक इन इंडिया’ को बढ़ावा मिलता है और यह भी ‘लोकल’ के लिए ‘वोकल’ ही होना होता है। 

डिजिटल लेन-देन का अनुरोध

प्रधानमंत्री  मोदी ने ऐसे उत्पादों को खरीदते समय डिजिटल लेन-देन का उपयोग करने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि जब आप भारत में बने, भारतीयों द्वारा बनाए गए उत्पादों से अपनी दिवाली रोशन करेंगे और अपने परिवार की हर छोटी-मोटी आवश्यकता लोकल से पूरी करेंगे, तो त्योहार की जगमगाहट ज्यादा बढ़ेगी। साथ ही स्थानीय लोगों का जीवन शानदार बनेगा। इससे भारत भी आत्मनिर्भर बनेगा।

अमृत महोत्सव का होगा समापन

सरदार पटेल की जयंती का उल्लेख करते हुए मोदी ने कहा कि इस अवसर पर 31 अक्टूबर को गुजरात में ‘स्टैचू ऑफ यूनिटी’ पर एकता दिवस से जुड़ा मुख्य समारोह होता है, लेकिन इस बार इसके अलावा दिल्ली में कर्तव्य पथ पर बहुत ही विशेष कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस दिन न सिर्फ अमृत कलश यात्रा का, बल्कि पिछले ढाई साल से चल रहे आजादी के अमृत महोत्सव का भी समापन होगा। 

यह भी पढ़ें


#Mann #Baat #मद #क #घषण #अकटबर #क #रख #जएग #मर #यव #भरत #सगठन #क #नव #Navabharat #नवभरत